protests

जनांदोलन का कड़वा सच

जब कोई युवा राजनीति की सारी जटिलताओं को भूलकर अपनी पहलकदमी से कुछ नया करना चाहता है तो समाज के तमाम "वरिष्ठ" लोग उसे अपने अनुभव का ज्ञान बाँटने चले आते हैं..