मेरा उत्तराखंड

Posted by Madhu Bhagat
January 19, 2017

Self-Published

उत्तराखंड बेहद  खूबसूरत राज्य हैं । इसकी खूबसूरती इस कदर फैली हैं कि,चारों तरफ की हरियाली आपको जन्नत की सैर करा दे । राज्य की राजधानी देहरादून जो हिमालय पर्वत की तलहटी पर विराजमान है । यहाँ राजाजी राष्ट्रीय पार्क,माल्सी डियर पार्क,तपकेश्वर मंदिर और बाघों की छलांग को देखने का लुफ्त उठा सकते हैं । यहाँ की सहस्त्रधारा हैं, जो मन शांति देता हैं । यहाँ  मन को मोहने वाली हवा को महसूस करने का फितूर हर एक इंसान पर होता हैं । यहाँ की सुंदरता  इन गुफाओ के दीदार से बढ़ जाती है। कहते है कि अगर वसंत जिंदगी की सैर में सहस्त्रधारा न देखा तो क्या देखा । “वाकई एक बार हवा के इख्तियार को एहसास तो करे,आपकी जुस्तजू वही समाप्त हो जाएगी।

उत्तराखंड पर पड़े आपके कदम गंगा के आवाज को सुने बिना नही जा सकते । गंगा का पानी बहुत पवित्र माना जाता हैं । ऐसी मान्यता है कि जो कोई भी इस जल से नहा ले तो उसके सभी पाप नष्ट हो जाते है । और उसका अमृत जल से कोई भी स्वर्ग की प्राप्ति कर लेता है ।भगवान की भक्ति की राग में एक जादू है, जो लोगो को अपनी तरफ खीच लेता है।

झीलों की नगरी से पहचाने जाने वाला नैनीताल खुशी का खजाना हैं।  नैनीताल की हसीन वादियों में स्थित नैना पीक के क्या कहने । हर एक उदास चेहरे पर अपनी लहराती मुस्कुराहट से जादू बिखेर देती हैं । यही नही भगवान की  बनाई सबसे खूबसूरत कृति जानवर जिनका दीदार हम नैनीताल जू  में कर सकते हैं । जहां आप एक ऐसी दुनिया देखेंगे,जो जीने के सफर को आखिर किस तरह जीना हैं? किस तरह आखो में पानी होते हुए भी चेहरे पर मुस्कान रखते है और इस ज़िन्दगी के बाजीगर बन चुके  हैं। बेशक देखी होगी बर्फ की फुहार लेकिन नैनीताल जैसे नही। वहां की स्नोफॉल ऐसी है कि, जो आपको कश्मीर के दर्शन करा दे। रोचक है हर एक मोड़ पर इसकी यात्रा। एक बार उन वादियों को देखिये तो सही

मेरी कुछ पक्तिया इस खूबसूरत राज्य के लिए

“क्या अमृत है उसके पानी में

क्या एहसास है उसकी हरियाली में

बस निगाहे ठहरती है और कह जाती है

क्या जादू है उस शहर की वादियो में ”

Youth Ki Awaaz is an open platform where anybody can publish. This post does not necessarily represent the platform's views and opinions.