Youth Ki Awaaz is undergoing scheduled maintenance. Some features may not work as desired.

महिलाओं की स्किन तस्करी की YKA की रिपोर्ट पर हरकत में नेपाल सरकार

Posted by Prashant Jha in Hindi
March 11, 2017

नेपाल में हो रही चमड़ी तस्करी पर Youth Ki Awaaz पर छपी रिपोर्ट के बाद नेपाल सरकार हरकत में आ गई है। ये रिपोर्ट Youth Ki Awaaz इंग्लिश पर 6 मार्च को और हिंदी में 8 मार्च को छपी थी। Reuters वेबसाइट पर 10 मार्च को छपे एक रिपोर्ट के मुताबिक नेपाल के महिला,बाल एवं सामाजिक कल्याण मंत्री कुमार खड़का ने कहा है कि वो इस रिपोर्ट से हैरान हैं। खड़का ने कहा ”हम मामले की जांच करेंगे और अगर ऐसा कुछ सामने आता है तो इस घिनौने अपराध को रोकने के लिए हर कदम उठाया जाएगा और अपराधियों को नहीं छोड़ा जाएगा।’

Youth Ki Awaaz की सोमा बासु ने इस मामले की गहरी तफ्तीश के बाद ये रिपोर्ट तैयार की। रिपोर्ट में नेपाली महिलाओं को फुसला कर कैसे भारत के वैश्यालयों में लाया जाता है और फिर उनकी स्किन कैसे चुरा ली जाती है कॉस्मेटिक सर्जरी के लिए, इस पूरे नेक्सस का भांडा फोड़ा गया था। रिपोर्ट पूरी करने में सोमा की सज़ायाफ्ता प्रेम बास्गाई से पूछताछ की भी अहम भूमिका रही।  प्रेम बास्गाई ने बताया था ”मानव चमड़ी की मांग बहुत ज़्यादा है, 100 स्क्वायर इंच स्किन 50 हज़ार से 1 लाख तक में बिकती है।”

कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक बड़ी संख्यां में नेपाल से भारत में मानव तस्करी जारी है। सस्ते मज़दूर, यौन हिंसा और किडनी बेचने के रैकेट के लिए भी मानव तस्करी लगातार इन इलाको से जारी है, लेकिन किसी भी सरकारी या प्रशासनिक नज़र में नहीं है।

सोमा की रिपोर्ट को सोशल मीडिया पर काफी अच्छी प्रतिक्रिया मिली। लोगों ने सोमा के इस प्रयास को सराहते हुए दोनों देशों की सरकारों से मामले पर कार्रावाई की मांग की। सोमा की इस साहसिक और इन्वेस्टिगेटिव रिपोर्ट को आप भी पढ़ें।

हर हफ्ते Youth Ki Awaaz हिंदी की बेहतरीन स्टोरीज़ अपने मेल में पाने के लिए यहां सब्सक्राइब करें।