गौतम का सुकमा के शहीदों को “गंभीर” सलाम ….

Posted by MJ Mayank
April 30, 2017

Self-Published

कथनी और करनी में फर्क होता हैं … सुकमा में हुए नक्सली हमले के बाद बड़े बड़े हस्तियों ने संवेदना जाहिर की .. लेकिन इन सब से ऊपर भारत के स्टार बल्लेबाज ने एक ऐसा कदम उठाया है जो काफी सराहनीय है और उससे भी कही आगे .. क्यूंकि यह परम्परा तो वर्षो से चली आ रही की देश के जवान सहीद होते ही सोशल मीडिया पर दुःख प्रकट करने के ताता लग जाता हैं … लेकिन गौतम गंभीर का यह आगे आकर ऐसा कदम उठाना लोगो को भावनातमक तरीके से जुड़ने के आलावा किसी की आर्थिक मदद करने को भी प्रतीत करेगा ,…. उन्होंने सुकमा के सभी जवानो के बच्चे को ताउम्र शिक्षा के खर्चे उठाने की घोसणा की .. उन्होंने एक ट्वीट करते हुए कहा था की ऐसे लोगो को सीधे गोली मर देनी चाहिए जो देश में रहकर देश को ही नुकसान पहुंचते हैं और फिर उन्होंने यह ट्वीट भी किया … गंभीर यहाँ तक भी न रुके और फिर मैच के दौरान ब्लैक पट्टी बांधकर सुकमा के सहीदो को अर्पित किया .. इसके साथ ही गंभीर ने गत रात शानदार बल्लेबाजी करते हुए टीम को जीत दिलाई … गंभीर को अपने मैच के लिए मन ऑफ़ थे मैच से नवाजा गया … गंभीर की राष्ट्रभक्ति यहाँ तक भी नहीं रुकी और उन्होंने वो पैसे भी सहीदो के परिजनों के नाम देने की बात कह दी..,.गौरवतलब हैं की गंभीर एक फाउंडेशन चालते हैं जिसके अंदर इन सभी बातो का धयान रखा जायेगा … वैसे ही सेहवाग और हरभजन ने भी सहीदो के साथ आने की बात कही हैं .. अब यह कथनी और करनी का फर्क ये साबित करेनेगे या बस यही संवेदना जारी कर यादो में खो जायेंगे … जो जवान देश के लिए कुर्बान हो जाते हैं उनके बचो का क्या , उनके परिवार का क्या .. इन सब पर आत्मचिंतन की जरुरत हैं हमें…. मानवता जैसे समाप्त सी हो गयी हैं ,… लोग बस दिखावे मात्र के लिए साथ आने की बात करते हैं … गंभीर जैसे खिलाडी जो भारत के युवावो के युथ आइकॉन हैं , उसके इस कदम से फर्क तो जरूर आने वाला हैं … कुछ दिन पूर्व ही बॉलीवुड के खिलाडी अक्षय कुमार ने ऐसे ही एक जिन्दा दिल्ली दिखते हुए एक ऍप की शुरुआत की .. इस ऍप के जरिये लोग प्रत्यक्ष रूप से सहीदो के परिवारों की मदद कर सकते हैं … टीवी स्क्रीन पर हीरो की भूमिका असल जिंदगी में भी साथ हैं …  वो अपने जीवन में भी एक हीरो की तरह काम करते हैं और उनकी सोच भी इससे बढ़कर … ऐसे महान कार्यरत हस्तियों को हमारा सलाम हैं और सभी को जो सक्षम है उन्हें साथ आकर ऐसे नेक चीजों में भागीदारी देनी चाहिए ..© Mj Mayank

Youth Ki Awaaz is an open platform where anybody can publish. This post does not necessarily represent the platform's views and opinions.