मेरे जन्मदिन पर आ जाओ माँ दुआ देने

Posted by thebittumeenaab
April 18, 2017

Self-Published

18 अप्रैल वैसे तो मेरा वास्तविक जन्मदिन नही है और न ही दस्तावेजो के अनुसार कोई महत्वपूर्ण दिन है मेरे लिए पर जिंदगी में अहमियत इतनी है की मैं इसे ही जन्मदिवस मान बैठा हूँ।

 

हर इंसान चाहता है वो जन्मदिन पर अपनी माँ की दुआ ले पर अगर माँ ही छोड़कर भगवान के पास चली गई हो तो किसकी दुआ लें, मैं आज 18 अप्रैल को जन्मदिवस मना रहा हु क्योकि आज से ठीक 1वर्ष पहले जयपुर के #रुंगटा_हॉस्पिटल में 6 ऑपरेशन सफलता से पुरे हो चुके थे… तो डॉ. नीलकमल गुप्ता उनका कहना था बेटा अपना वास्तविक जन्मदिन भूल और अब 18 अप्रैल को ही जन्मदिन मान ले बस उनका कहना मान रहा हु।

 

आज मैं जन्मदिन तो मना रहा हु पर मेरी मम्मी मेरे साथ नही है मुझे मेरा यह स्पेशल दिन अधूरा सा लग रहा है और मन बैचेन सा है उजड़ा उजड़ा सा है, सोच रहा हु मम्मी आ जाये बस 5 मिनट के लिए ही आ जाएं पर दुआ दे जाये, 1 साल हो गयी माँ की दुआओ के बिना!

 

मैं आज मम्मी के बर्थडे गिफ्ट का इंतजार कर रहा हु, काश मेरा बर्थडे गिफ्ट आ जाये.. मुझे कोई चीज की जरूरत नही है मुझे सिर्फ आपकी दुआओ की जरूरत है। मुझे पता है आप वहाँ रहकर भी मुझे दुआ दे  रही होंगी पर क्या नजरो के सामने आकर दुआ दे दोगी?

 

मैं मेरे तकिये के निचे मेरा #लैटर लिख कर रख रहा हु… अभी रात नही है पर भी मैं लैटर तकिये के निचे रखकर सो रहा हु सिर्फ इस आशा में की आप उसका जवाब दोगी….

 

आप कितनी अच्छी है हालाँकि मेरे साथ आप 1 साल से नही हो पर मुझे लगता है आप मेरे साथ हो कही न कही, किसी न किसी रूप में…

 

बस आज इतना सा कर दो मेरे लिए की मेरे पत्र का जवाब दे देना आपको तो पता है मेरा जन्मदिन है मैं आपको तो सिर्फ मेरा पत्र लिखकर रख रहा हु पर मेरी क्या हालात है लिखने में खुद को नही पता, मैं कितना रो रहा हु और कितना बिखर रहा हु लिखते हुए इसका तो मैं खुद भी अंदाजा नही लगा पा रहा हूँ!!

 

सिर्फ लौट आओ न किसी बहाने से इस कुदरत के नियम को तोड़ दो न माँ तुम, मुझे पता है तुम यह नियम तोड़ दोगी क्योकि आपका बेटा आपको बुला रहा है! तुम सिर्फ लौट आओ मैं कभी दोबारा आपको मुझसे दूर नही जाने दूंगा, आपके जाने के बाद दुनिया के कितना रुलाया, हर मोड़ पर ठोकरे खाई!

 

 

बस लौट आओ न

 

 

Bittu Meena AB

+91-9414210698

 

Youth Ki Awaaz is an open platform where anybody can publish. This post does not necessarily represent the platform's views and opinions.