जब पहली बार मेरा पीरियड्स आया तो…

Posted by videovolunteers in #IAmNotDown, Hindi, Menstruation
April 29, 2017

मेन्सट्रुएशन पर बहुत बातें हुई है, लेकिन अभी वो बहुत नहीं हुई है। मतलब बिना कोई एडजेक्टिव लगाए कहें तो मेंस्ट्रुएशन या पीरियड्स पर खुल के बात करने लायक अभी भी अपने यहां माहौल नहीं बन पाया है। और फिर इससे जुड़े मिथकों को लेकर तमाम तरह की खोखली बातें। जैसे अपवित्र हो जाती हैं लड़कियां इस दौरान, मंदिर ना जाना, अचार ना छूना वगैरह वगैरह। ये समझ पाना कि ये एक मासिक स्वास्थ्य प्रक्रिया है बहुत कठिन नहीं है लेकिन पीरियड्स पर सोशल डिबेट देख-सुन कर ये कठिन ही लगता है। यूपी की महिलाएं और लड़कियों से वीडियो वॉलेन्टियर्स ने बात की और उनके पहले पीरियड्स का अनुभव क्या था ये समझने की कोशिश की। लगभग सभी महिलाओं के लिए इसके बाद सामाजिक स्तर पर उनका जीवन बदल चुका था। देखिए

हर हफ्ते Youth Ki Awaaz हिंदी की बेहतरीन स्टोरीज़ अपने मेल में पाने के लिए यहां सब्सक्राइब करें।