नैंसी झा हत्या मामले में रेप और तेज़ाब की खबरें गलत- पुलिस

Posted by Prashant Jha in Hindi, News
May 31, 2017

पटना से लगभग 162 किमी दूर मधुबनी, शायद कभी मधुबनी पेंटिंग का ज़िक्र आपने सुना होगा। 27 मई से लगातार चर्चा में बना हुआ है। वजह है 12 साल की नैंसी झा की नृशंस हत्या। नैंसी 25 मई को मधुबनी के अंधरामठ थाना के अंदर आने वाले महादेवमठ गांव से लापता हो गई थी। पिता रविंद्र नारायण झा ने पुलिस में रिपोर्ट लिखवाई। लेकिन 27 मई को गांववालों को जिस अनहोनी की आशंका थी वही हुआ। नैंसी का शव घर से लगभग एक किमी दूर मिला।

नैंसी के पिता द्वारा पुलिस में की गई शिकायत की कॉपी

रविंद्र नारायण झा ने FIR में जिन दो लोगों पर शक जताया था उन दोनों आरोपियों, लालू झा और पवन झा को गिरफ्तार कर लिया गया है। 25 मई को नैंसी की बुआ की मेहंदी की रस्म थी जिसके बाद से ही नैंसी लापता हो गई थी। जिसके बाद 26 मई से सोशल मीडिया पर नैंसी को सकुशल ढूंढने के लिए कैंपेन चलाया जा रहा था।

अखबारों और सोशल मीडिया पर जब ये खबर आई तो हत्या से पहले बलात्कार की बात सामने आई। शव की स्थिती देखते हुए ये भी बातें सामने आने लगीं कि हत्या के बाद आरोपियों ने नैंसी को तेज़ाब से जलाया। सोशल मीडिया में भी तस्वीरों के साथ साथ बलात्कार और तेज़ाब से जलाने की आशंका जताई गई।

Youth Ki Awaaz ने मामले को लेकर इलाके के DSP से बात की। DSP ने बताया कि जो पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई है उसमें ना रेप और ना तेज़ाब डालने की बात है। बातचीत में DSP चौधरी ने बताया कि रिपोर्ट के अनुसार हत्या गला दबाकर की गई है, रेप और तेज़ाब की बातें जो लोग कर रहे हैं वो गलत है।

पूरे मामले की वजह पुरानी पारिवारिक दुश्मनी को माना जा रहा है। आरोपी और नैंसी के पिता पड़ोसी हैं और दोनों के बीच ज़मीन विवाद है।  25 की शाम दोनो आरोपियों ने नैंसी का अपनी बाइक से अपहरण कर लिया था जिसके बाद FIR भी दर्ज की गई थी लेकिन पुलिस नैंसी को सही सलामत ढूंढने में कामयाब नहीं हो पाई।

स्थानीय लोगों में इस घटना को लेकर ज़बरदस्त गुस्सा है और प्रशासन के विरोध में नारे भी लग रहे हैं। मधुबनी दरभंगा से बीते कुछ दिनों से लगातार हत्या, लूटपाट और बलात्कार की आ रही खबरें कानून व्यवस्था पर एक बड़ा सवाल खड़ा कर रही है। जयनगर में व्यवसायी की हत्या, दरभंगा में 25 वर्षीय महिला के साथ दुष्कर्म और हत्या की खबर, लौकही के पेट्रोल पंप पर लूटपाट, बेनीपट्टी में हत्याएं, ये हाल में घटी कुछ ऐसी घटनाएं हैं जो मिथिलांचल में बे रोक-टोक बढ़ रहे आपराधिक घटनाओं की एक बानगी भर है।

हर हफ्ते Youth Ki Awaaz हिंदी की बेहतरीन स्टोरीज़ अपने मेल में पाने के लिए यहां सब्सक्राइब करें।