मेरा अनोखा अनुभव

Posted by Saurabh Baghel
August 5, 2017

Self-Published

आज सुबह मैं अपने कुछ मित्रों के साथ बांके बिहारीमंदिर , वृंदावन (मथुरा )गया हुआ था ।वहां मैंने भगवान की आलोकित छवि के दर्शन किए ।दर्शन करने के बाद मैं अपने घर लौट रहा था लौटते समय मसानी चौराहा ,मथुरा पर एक ऐसे अद्भुत दृश्य के दर्शन हो गए जिसकी मैंने कल्पना भी नहीं की थी। जब मैं दूर से उस विचित्र चीज को देख रहा था तो मुझे आभास हुआ कि शायद कोई अपने नृत्य से लोगों को आनंदित कर रहा है ।वहां से निकलते सभी लोग उसे देखकर अपने आप को वहां रुकने से नहीं रोक पा रहे थे ।क्योंकि मैं दूर था और सच कुछ और था ।लेकिन उसकी वजह से सड़क के दोनों ओर जाम लग गया था ।जो बहुत ही बड़ा था उसे देखने के लिए मैं भी उत्साहित हो रहा था और अपने अवसर की प्रतीक्षा कर रहा था। धीरे-धीरे मैं उसके नज़दीक बढ़ता गया और मुझे वहां हमारी जांबाज ,जुझारू कर्तव्यनिष्ठ , वचनवध्ध यूपी पुलिस की 1 Innova कार खड़ी हुई दिखाई दी। उसे देखकर मैं और व्याकुल हो उठा ।अब मुझे पक्का यकीन हो गया कि आप मुझे यहां जरूर ही कुछ बड़ा देखने को मिलेगा ।बहुत देर के लंबे परिश्रम के बाद में उस विचित्र चीज के पास तक पहुंचा और जैसा मैं पहले ही बोल रहा था कि उसे देखकर सचमुच मेरी आंखें खुली रह गई। वहां एक व्यक्ति नग्न अवस्था में हाथ में लंबा सा हथियार लिए शायद भाला होगा अपने हुनर दिखा रहा था जिसके जिसे हमारे साथ हमारी यूपी पुलिस भी देख रही थी वह उसे अपनी पूरी ताकत से सड़क के चारों ओर ऐसे घुमा रहा था कि पास आने वाला ऐसा ऐसा चोटिल हो कि उसे हमारे महान अस्पताल भी ना बचा सकें जिसकी वजह से लोग डर कर उससे दूर खड़े थे । हकीकत मैं वह एक पागल था बस कुछ फटे कपड़े पहने हुए था हाथ में डंडा था और उसने पूरा रोड बंद किया हुआ था आश्चर्य की बात तो यह है कि यह तमाशा लगभग आधे घंटे तक चला मगर वहां खड़े हमारी जुझारू जांबाज कर्तव्यनिष वचन वध्ध पुलिस ने उसे वहां से भगाने की कोशिश तो दूर अपनी गाड़ी में से निकलने का प्रयास तक नहीं किया ।शायद वह किसी दुर्घटना का इंतजार कर रहे होंगे वैसे भी हमारी यूपी पुलिस दुर्घटना के बाद ही पहुंचती है ।पुलिस के इस कायरता भरे दृश्य को देखने के बाद मुझे प्लेटफार्म पर लिखा हुआ वाक्य याद आ गया जिसमें लिखा होता है कि सवारी सामान की खुद जिम्मेदार है।

Youth Ki Awaaz is an open platform where anybody can publish. This post does not necessarily represent the platform's views and opinions.