धर्म

Posted by Aqdas_shaikh_22
September 28, 2017

Self-Published

*वो कहते हैं कि हम हिंदुस्तान छोड़दे*
*बताओ भूत प्रेत के डर से मकान छोड़दे।।*

क्या यह हिंदुस्तान केवल हिन्दुओ का है, या केवल मुसलमान का है?
नही यह हिंदुस्तान हम इंसानों का है।
यह हिंदुस्तान है हिंदुस्तान से मोहब्बत करने वाले अमन पसन्द इंसान का है। यह हिंदुस्तान उन करोड़ो देश प्रेमियों का जो नफरत को नही मोहब्बत को तवज्जो देते हैं।

फिर हमसे क्यो कहा जाता है कि हिंदुस्तान छोड़दो?
जिसको जाना है वो पाकिस्तान जाए या नेपाल, हम हिंदुस्तानी थे हैं और रहेंगे।
यह मुल्क़ हम इंसानों का है नाकि किसी विशेष धर्म का।
इस देश मे आज हम जिस स्थिति को देख रहे हैं वो बेशक़ बहुत ही दुर्भागपूर्ण स्थिति है।
लेकिन आखिर वो स्थिति पैदा की किसने?
उन 15% देश विरोधियों ने जो हर धर्म मे हैं चाहे वो हिन्दू हो मुस्लिम हो सिख हो ईसाई हो जो 15% और 85% लोंगो के बीच एक नफरत की दीवार बनाना चाहते हैं और जब वो इसमें नाकाम हो जाते हैं तो बन जाते हैं धर्म के ठेकेदार। वो कहते हैं कि धर्म पर संकट आ गया है जिसे हम सबको बचाना है।
अरे निठल्लों धर्म ने तुमको बनाया है या तुमने धर्म को?
हमको ऊपर वाले ने बनाया है और अगर हमारे धर्म पर संकट आएगा तो वो रक्षा करेगा नाकि तुम।
यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिः हानिः वर्णाश्रमादिलक्षणस्य प्राणिनामभ्युदयनिःश्रेयससाधनस्य भवति भारत *अभ्युत्थानम् उद्भवः अधर्मस्य तदा तदा आत्मानं सृजामि अहं मायया।।किमर्थम्*
अर्थात-
*हे भारत जबजब धर्म की हानि और अधर्म की वृद्धि होती है तबतब मैं स्वयं को प्रकट करता हूँ।।*

तब हम क्यों यह कहते हैं कि हमे धर्म बचाना है?
जो पढ़े लिखे हैं वो तो यह समझ लेते हैं पर जो 200rs में भीड़ बनकर मोदी मोदी करते हैं उनके अंदर बात नही जाती।
मैं उनसे यह कहना चाहता हूँ कि आपको वो धर्म के नाम पर उकसाएंगे क्योंकि इससे उनका फायदा है,उन्हें वोट लेना है।अगर आप समझदारी से काम लेंगे और जिस अंगूठे से आप कमल पंजा या कोई भी निशान का बटन दाबाते हैं उसी अंगूठे से आप उन्हें ठेंगा दिखा दीजिये।
उन्हें जता दीजिये कि हमको उतना बेवकूफ न बनाओ क्योंकि देश जनता से बनता है और अगर जनता जागरूक हुई और जनता ने आवाज़ बुलंद की तो शायद दिल्ली और लखनऊ में बैठे लोगों की कुर्सियों में भूकम्प आ जाएगा।
*अगर वो कहें कि आप देश द्रोह हैं तो तस्वीरें लीजिये अपनी हिंदुस्तान के तिरंगे के साथ और उसमें लिखिए मादरे वतन ज़िंदाबाद और उसे सोशल मीडिया पर डालिये और लिख दीजिये कि हमारी राष्ट्रीयता बीजेपी की भक्ति से नही भारत की भक्ति से है।*

अक़दस की कलम से📝📝📝

Youth Ki Awaaz is an open platform where anybody can publish. This post does not necessarily represent the platform's views and opinions.