दरअसल दनकौर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में रहने वाले प्रेमी जोड़े ने परिजनों की मर्जी के खिलाफ मंदिर में शादी कर ली। बताया जा रहा है कि दोनों को बुधवार की देर रात परिजनों ने गाजियाबाद में पकड़ लिया। इसके बाद गुरुवार को प्रेमी जोड़ा चुपके से दनकौर कोतवाली पहुंच गया। उन्होंने अपनी जान को खतरा बताते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई। दोनों के परिजनों ने उन्हें मनाने की कोशिश की लेकिन वे साथ रहने की जिद पर अड़े रहे। युवक और युवती में कई साल से प्रेम संबंध थे। दोनों के परिजनों ने उन्हें कई बार टोका भी, लेकिन वे नहीं माने।

बता दें कि करीब 3 दिन पहले दोनों घर से गायब हो गए। दोनों ने बुधवार को गाजियाबाद में एक मंदिर में शादी कर ली। दोनों के गाजियाबाद में होने की खबर उनके परिजनों को लग गई। परिजन गाजियाबाद पहुंचे और दोनों को पकड़ लिया। इसके बाद उन्हें घर लाया गया। गुरुवार दोपहर युवक और युवती चुपके से दनकौर कोतवाली पहुंच गए। उन्होंने परिजनों पर ऑनर किलिंग की धमकी देने का आरोप लगाते हुए पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई। कुछ देर बार दोनों के परिजन भी कोतवाली पहुंच गए। उनके सामने भी युवक-युवती ने साथ रहने की बात कही। दनकौर कोतवाल फरमूद अली पुंडीर का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।