बलात्कार….

Posted by Rahul Shabd
October 13, 2017

Self-Published

बलात्कार
जनमानस की क्षणिक उत्तेजना…
मोमबत्तियों का जमघट…
नेताओं के घड़ीयाली आंसू…
पत्रकारों की उछल कूद..
पुलिस को फटकार..
टीवी पर बहस..
कानूनों की दुहाई..
मानवाधिकार की बातें..
कुछ कविताएँ, कुछ भाषण
कुछ  साक्षात्कार….

फिर………..

एक और
बलात्कार।।

– राहुलशब्द

Youth Ki Awaaz is an open platform where anybody can publish. This post does not necessarily represent the platform's views and opinions.