कुमार विश्वास राज्यसभा से ज्यादा बड़े

Posted by kv_update
November 5, 2017

Self-Published

आप नेता कुमार विश्वास चाहते है कि उन्हें AAP राज्यसभा में भेजे लेकिन पार्टी ने अभी अपने पत्ते नहीं खोले है । ऐसे में हर कोई चाहता है पार्टी इस पर बोले लेकिन पार्टी अपने पत्ते जनवरी में खोलेगी । पर मैं कुमार विश्वास का फैन होने के नाते ये कहना चाहूँगा कि उन्हें राज्यसभा नहीं जाना चाहिये । क्यों ? इसके पीछे के कारण मैं आपसे साझा कर रहा हूँ :-

 

1. कुमार विश्वास एक सेलेब्रेटी है, वो भी राज्यसभा में उतने ही जा पाएंगे जितने कि सचिन, रेखा आदि गए ।

 

2. कुमार विश्वास राज्यसभा से बढ़कर है, वो अगर राज्यसभा गए तो पार्टी को समय कम दे पाएंगे, सेलेब्रेटी होने की वजह से वो पहले ही बहुत ज्यादा बिजी रहते है, फिर राज्यसभा में भी समय देना पड़ेगा, इसलिये फिर पार्टी के लिये समय नहीं दे पाएंगे, जबकि वो किसी भी विरोधी को अपनी ओर आकर्षित करने में 5 मिनट से ज्यादा समय नहीं लेते ।

 

3. चूँकि कुमार राज्यसभा में रहेंगे तो कवि सम्मेलनों में नहीं जा पायेंगे, ऐसे में वो नए लोगों से इंटरेक्शन नहीं कर पायेंगे । अभी कवि सम्मेलनों में वो ज्यादा लोगों तक पहुँच रखते है ।

 

4.  उनके एक कवि सम्मेलन में कम से कम 25 से 30 हजार की भीड़ आती है, जिसमें अगर वो बिना किसी राजनीति के भी सरकार की गलत नीतियों पर बोले तो हम सरकार विरोधी माहौल आसानी से बना सकते है ।

 

5. राज्यसभा में बोलेंगे तो वहाँ सरकार को अपने सवालों से परेशान तो कर सकते है पर कितने लोग सुनेंगे ? सिर्फ 250 लोग । बाहर जनता को तो पता भी नहीं लगने देंगे ये लोग, क्योंकि सब न्यूज़ चैनल तो मोदी और उसके उद्योगपति दोस्तों ने खरीद रखे है, ऐसे में उन्हें दिखायेगा कौन ?

 

6. शायर दुष्यंत की एक लाइन है, ” हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं, मेरी कोशिश है कि ये सुरत बदलनी चाहिये” इससे मेरा मतलब इतना ही है कि कुमार विश्वास राज्यसभा में तो हंगामा कर देंगे पर पर देश की सूरत नहीं बदल पायेंगे । इसलिये उन्हें राज्यसभा के दायरे से बाहर ही रहना चाहिये ।

Youth Ki Awaaz is an open platform where anybody can publish. This post does not necessarily represent the platform's views and opinions.