गोरखपुर के यंग म्यूज़िशियन विनोद पटवा ने कैसे बनाई बॉलीवुड में अपनी जगह?

Posted by जोश Talks in Art, Hindi, Video
March 16, 2018

संगीत निर्देशक और गोरखपुर के रहने वाले विपिन पटवा अब गायन के प्रति अपना ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। भारतीय शास्त्रीय गायन में प्रशिक्षित विपिन आने वाली फिल्म ‘लाली की शादी में लडडू दीवाना’ में अपना तीसरा गाना ‘एक विलन’ के प्रसिद्ध गायक मोहम्मद इरफान के साथ गा रहे हैं। इसके पहले वे अरिजीत सिंह के साथ भी गाने गा चुके हैं। गोरखपुर जैसे छोटे शहर से विपिन आज के उभरते हुए संगीतकारों में से एक हैं। इनकी प्रेरक कहानी जानने के लिए देखें जोश टॉक का यह विडियो।

छोटे शहर से बॉलीवुड में एंट्री

शहर छोटा हुआ तो क्या हुआ उसकी आंखों के सपने बड़े थे और पूरी करने की चाह भी ज़बरदस्त थी। आज विपिन पटवा बॉलीवुड के उभरते हुए संगीतकारों में से एक हैं। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में जन्में विपिन एक बिज़नेस फैमिली से हैं, उन्होंने 14 वर्ष की आयु में ही तय कर लिया था कि वे संगीत में ही अपना करियर बनाएंगे। उन्होंने सुबह शाम रियाज़ किया और किराना घराना के पंडित हरीश तिवारी से संगीत सीखा। उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन और एम.फिल की पढाई भी भारतीय शास्त्रीय संगीत से ही पूरी करी।

2009 में अपने सपने लेकर मुंबई पहुंचे विपिन, अभी तक लव यू सोनिया, बॉलीवुड डायरीज़ और वाह ताज जैसी बहुत सी फिल्म के संगीतकार रह चुके हैं। विपिन ने बस सपने देखे और उन्हें पूरा करने में जी-जान लगा दिया। आज वो अपने सपने के बेहद करीब हैं। आप कहां से हैं, यह मायने नहीं रखता बल्कि आपकी चाह मायने रखती है।

क्यों है निरंतर रियाज़ ज़रूरी?

अपनी टॉक के दौरान विपिन बताते हैं कि छोटी उम्र से ही वे अपने संगीत की कला को निखारने के लिए निरंतर अभ्यास करते आ रहे हैं। जैसे एक निशानेबाज़ अपना निशाना अचूक बनाने के लिए लगातार अभ्यास करता है ठीक उसी प्रकार अपने सुर एक दम सही लगाने के लिए रियाज़ बहुत ही ज़रूरी है। कोई भी कला तभी निखरती है जब आप उसकी पॉलिशिंग करते हैं, इसलिए अगर आपको लगे कि नहीं हो रहा है तो बस बिना ज़्यादा सोचे-समझे बस अभ्यास करते रहो, एक दिन वो चीज़ सही ज़रूर होगी।

हर हफ्ते Youth Ki Awaaz हिंदी की बेहतरीन स्टोरीज़ अपने मेल में पाने के लिए यहां सब्सक्राइब करें।