बिना बैंक बैलेंस बिगाड़े ऐसे करें पर्सनल लोन से अपना सपना पूरा

Posted by Rajveer khanna in Business and Economy, Hindi
June 22, 2018

सपने कौन नहीं देखता। भले ही आप अभी नौकरी ना भी कर रहे हों, लेकिन आपके सपनों की कमी नहीं। और हो भी क्यों, इन सपनों को पूरा करने के लिए सिर्फ दो ही चीज़ें तो चाहिए- जज्बा और पैसा।

बहुत से लोग इस रास्ते पर चलते तो बड़े जज्बे के साथ हैं, लेकिन पैसों की कमी उनके जोश को ठंडा कर देती है। ऐसा तभी होता है जब उन्हें उपलब्ध साधनों की जानकारी नहीं होती, और वो अपने कीमती सपनों को बहुत जल्दी छोड़ देते हैं।

लेकिन आपको ऐसा करने की बिल्कुल भी ज़रूरत नहीं है। क्योंकि, आपके पास पैसे की कमी को पूरा करने के बहुत से रास्ते हैं। इनमें से एक रास्ता है ‘पर्सनल लोन’।

पर्सनल लोन कैसे काम करता है?

पर्सनल लोन कोई भी ले सकता है, बशर्ते उनकी कोई मासिक आय हो। हालांकि आप बिना आय के भी पर्सनल लोन का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन ऐसे में आपको लोन कैसे चुकाना है ये अच्छे से पता होना चाहिए।

अगर आपकी एक मासिक आय है, तो पर्सनल लोन लेना भी आसान है, और उसे चुकाना भी। असल में, पर्सनल लोन देने वाली बैंकिंग अथवा नॉन-बैंकिंग कंपनी भी आपकी मासिक आय के हिसाब से आपका लोन तय करती है।

उदाहरण के लिये- मान लीजिये आपकी आय 40,000 प्रति माह है। पर्सनल लोन कंपनी आपको अधिकतम इतना ही लोन देगी जिसकी EMI (मासिक किश्त) सिर्फ 20,000 या इससे कम हो।

अपनी सुविधा के लिए आपको भी लोन लेते समय ऐसे कुछ चीज़ों का ख्याल रखना चाहिए।

पर्सनल लोन लेते समय किन ज़रूरी चीज़ों का ख्याल रखें?

पर्सनल लोन हो या कोई और लोन, कुछ परिस्थितियों का सभी कर्ज़दारों को ख्याल रखना चाहिये। इनमें से सबसे महत्वपूर्ण शर्तें ये हैं:

  1. आपकी तात्कालिक आमदनी
  2. घर का खर्च
  3. आगे आने वाले खर्चों के लिए ज़रूरी बचत
  4. दूसरे लोन की EMI

आपके पर्सनल लोन की EMI लोन की अवधि पर निर्भर करती है। जैसे-जैसे आप लोन की अवधि बढ़ाते हैं, आपका EMI तो कम होगा, लेकिन साथ में पूरा ब्याज़ बढ़ता जाता है। साथ ही, समय के साथ आपके खर्चे और ज़रूरतें भी बढती हैं। इसलिए, जितना हो सके, आप चाहेंगे की आपका लोन जल्दी खत्म हो।

ऐसी परिस्थिति से बचने के लिए, आपको अपना लोन बहुत सावधानी से चुनना चाहिए। याद रखिये, आपके पारिवारिक खर्चे और ज़रूरतों के बारे में आपको लोन कंपनी से ज़्यादा जानकारी है।

यदि आप अपने सपनों को बिना बैंक बैलेंस बिगड़े पूरा करना चाहते हैं, तो आपको ये सुनिश्चित करना पड़ेगा कि
आपके नए लोन की EMI आपकी मौजूदा बचत के अन्दर हो।

उदाहरण के लिए, यदि आपकी मासिक आय में से घर के खर्चे और ज़रूरी व्यय हटाने के बाद सिर्फ 20,000 ही बचते हैं, तो आपके नये लोन की EMI इससे ज़्यादा नहीं होनी चाहिए।

पर्सनल लोन कैसे ले सकते हैं?

जैसे कि आजकल रसोईघर का सामान, और मोबाइल फोन इन्टरनेट के ज़रिये खरीदे जा सकते हैं, वैसे ही आप पर्सनल लोन्स के लिए भी मिनटों में online आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको किसी बड़े बैंक के पास जाने की भी ज़रूरत नहीं है।

आप सीधे नॉन-बैंकिंग कंपनी की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म भर सकते हैं। यदि आपके सारे ज़रूरी दस्तावेज़ नॉन-बैंकिंग कंपनी द्वारा स्वीकार कर लिए जाते हैं तो सिर्फ आधे घंटे के अन्दर आपका लोन आपके बैंक खाते में आ जाता है।

लोन की EMI भी सीधे आपके खाते से ही कटती रहेगी। तो अब इन्तज़ार किस बात का? अपने खर्चों का बजट बनाइये और सपनों को पर्सनल लोन से पूरा कीजिये, बिन अपना बैंक बैलेंस बिगाड़े।

हर हफ्ते Youth Ki Awaaz हिंदी की बेहतरीन स्टोरीज़ अपने मेल में पाने के लिए यहां सब्सक्राइब करें।