प्रधानमंत्री जी, शीरोज़ हैंगआउट के एसिड अटैक सर्वाइवर्स को आपकी ज़रूरत है

Posted by AshishShukla567 in Hindi, Society
July 19, 2018

10 दिसम्बर 2014 को शीरोज़ हैंगआउट कैफे आगरा की शुरुआत हई, एसिड अटैक सर्वाइवर के सपनों की दुनिया मानो रंग लेने लगी,  इस पहल की देश-विदेश मे भी चर्चा हो रही है और भारत सरकार के महिला कल्याण एवं बाल विकास मंत्रलाय  द्वारा नारी शक्ति पुरस्कार 2016 से शीरोज़ हैंगआउट को भारत के राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किया गया। इसके सकारात्मक कार्य से प्रभावित होकर कलाकार और बॉलीवुड-हॉलीवुड हस्तियों ने कैफे विजिट कर एसिड अटैक सर्वाइवर्स को प्रोत्साहित किया। 

बाएं- हैरी पॉटर फिल्म में अभिनय कर चुके लुशियस मलफॉय शीरोज़ विज़िट पर, दाएं- पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से महिला दिवस पर नारी शक्ति सम्मान प्राप्त करती रूपा।

11 जुलाई 2018 को शीरोज़ हैंगआउट आगरा अतिक्रमण के हिस्से में आया और नगर निगम ने अपना कार्य करते हुए शीरोज़ के अतिक्रमण वाले हिस्से को हटा दिया, अतिक्रमण हटाना अनिवार्य है, हम अतिक्रमण के पक्ष में नहीं हैं। सुप्रीम कोर्ट लगातार केंद्र सरकार और राज्य सरकारों से पूछ रही है कि एसिड अटैक पीड़ित के पुनर्वास को लेकर क्या नीतियां है अभी भी किसी के पास कोई जवाब नहीं है।

एनक्रॉचमेंट हटाने की कार्रवाई में टूटा शीरोज़ हैंगआउट

सरकार के पास कोई स्कीम नहीं जिससे उनको मुख्यधारा में जोड़ने का काम किया जा रहा हो, स्टेट का इतना बड़ा फेल्यर है कि एसिड अटैक रुक नहीं रहे हैं और उनके इलाज के लिए बेहतर हॉस्पिटल नहीं हैं जो हैं वो बहुत महंगे हैं। पेशेंट को ट्रीट कर सकें यह कैफे उनके बेहतर इलाज के लिए स्त्रोत है।

शीरोज़ हैंगआउट किराए पर ली गई जगह पर फतेहाबाद रोड आगरा पर संचालित है, कैफे में आठ सर्वाइवर काम करती हैं उनके इलाज से लेकर बच्चों की पढ़ाई कैफे पर ही निर्भर हैं। कैफे टूट जाने से चार-पांच महीने विज़िटर कम होंगे इसलिए कैफे में कार्यरत सभी सर्वाइवर्स चाहती हैं कि आगरा विकास प्राधिकरण या प्रशासन की तरफ से कोई स्थान दिया जाए जिससे वो बिना रुकावट के अपना कैफे सुचारु रूप से चला सकें।

सभी सर्वाइवर चाहती हैं शहर का विकास होगा तो सड़कें बेहतर होंगी यानी ज़्यादा से ज़्यादा लोग आसनी से पहुंच सकेंगे और एसिड अटैक जैसे मुद्दे के बारे में ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को जागरूक किया जा सकेगा।

सभी शीरोज़ माननीय प्रधानमंत्री जी से अनुरोध करती हैं वो इस मामले को संज्ञान में लें तो शायद हमें जल्द से जल्द राहत मिल जाए  क्योंकि 2016 के नारी शक्ति पुरस्कार से सम्मानित रूपा से प्रधानमंत्री मिलें तो हर सम्भव मदद करने को कहा था। हम अपील करते हैं जिस पहल को बाहर देश के राष्ट्रपति और मीडिया संस्थाओं से सम्मानित किया गया है उसे बनाए रखने के लिए आपकी सहायता की ज़रूरत है। प्रधानमंत्री जी का ध्यान आकर्षित करने के लिए change.org पर एक पिटिशन शुरू किया है

कृपया यह पिटिशन साइन करें ताकि माननीय प्रधानमंत्री का ध्यान इस ओर खीचा जा सके: bit.ly/mypmforsheroes

आप भी इस पिटिशन पर साइन कर प्रधानमंत्री से निवेदन करें और हम माननीय मुख्यमंत्री उत्तरप्रदेश योगी आदित्यनाथ जी से भी निवेदन करते हैं कि शीरोज़ जैसी संस्थानों की ज़रूरत है, प्रदेश के शीरोज़ के सभी सदस्य चाहते हैं कि आप भी इसे संज्ञान में लेकर शीरोज़ हैंगआउट की हर सम्भव मदद करें।     

हर हफ्ते Youth Ki Awaaz हिंदी की बेहतरीन स्टोरीज़ अपने मेल में पाने के लिए यहां सब्सक्राइब करें।

Similar Posts
PREETY MAHAWAR in Hindi
August 16, 2018
Prashant Pratyush in Hindi
August 16, 2018
Neeraj Yadav in Hindi
August 16, 2018