20 और 21 दिसंबर, 2019

डॉ. अम्बेडकर इंटरनैशनल सेन्टर, जनपथ, नई दिल्ली

सम्मिट की कल्पना
मुफ्त, विविध, समावेशी.

आज युवा दुनियाभर में परिवर्तन लाने में जुटे हुए हैं। संस्कृति से लेकर राजनीति तक, कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों पर उनकी सोच का प्रभाव दिखाई पड़ रहा है।

2018 में शुरू किया गया, Youth Ki Awaaz सम्मिट युवाओं के लिए महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा और विचार-विमर्श करने का सबसे बड़ा मंच है।

सम्मिट इस प्रगतिशील पीढ़ी की आवाज़ बनकर चेंजमेकर्स और नीति निर्माताओं के बीच संवाद स्थापित करने का भी सबसे सशक्त मंच है।

हमारे साथ-साथ जुड़िए सम्मिट में हिस्सा लेने वाले 2000 YKA यूज़र्स के साथ जिन्होंने अपनी अभिव्यक्ति, कार्रवाई और वकालत का उपयोग समाज में बदलाव लाने के लिए किया। इस दो दिवसीय कार्यक्रम में आपको नीति निर्धारकों से भी बातचीत का अवसर मिलेगा।

YKA सम्मिट में ना सिर्फ आपको भारत के प्रमुख चेंजमेकर्स, सोशल एंटरप्रेन्योर्स, पॉलिटिकल लीडर्स, आर्टिस्ट्स और परफॉर्मर्स से मिलकर उन्हें सुनने का अवसर मिलेगा, बल्कि इस दौरान बारिकी से डिज़ाइन किए गए कुछ वर्कशॉप्स का हिस्सा बनकर अपनी बदलाव यात्रा को नई दिशा भी दी जा सकती है।

नोट: Youth Ki Awaaz सम्मिट विकलांग व्यक्तियों के लिए पूरी तरह से एक सुलभ इवेंट है, जहां दो दिनों के दौरान सांकेतिक भाषा व्याख्याकार की उपलब्धता भी होगी।

गवाहों की ज़ुबानी

जो 2016 में आए थे वो कहते हैं

 

 

 

 

इनसे होंगी बातें

संवाद

कैलाश सत्यार्थी
चाइल्ड राइट्स एक्टिविस्ट, नोबेल पीस पुरस्कार विजेता
अभिनव अग्रवाल
अनहद फाउंडेशन, संस्थापक
अमन शर्मा
क्लाइमेट चैंपियन
आशीष बिरुली
फोटो जर्नलिस्ट और आदिवासी अघिकार एक्टिविस्ट
अशोक मलिक
पद्मश्री से सम्मानित, राष्ट्रपति के पूर्व सलाहकार और सम्मानित फेलो, ऑब्ज़र्बर रिसर्च फाउंडेशन
बासित जमाल
सोशल एंटरप्रेन्योर और अशोका फेलो
कर्णिका कोहली
ऑडियंस एडिटर, स्क्रोल
मालिनी गौरीशंकर
संस्थापक, सीईओ F5Escapes
मीर मोहम्मद अली
सब डिविज़नल मजिस्ट्रेट, कन्नूर
नेहा अरोड़ा
संस्थापक, प्लेनेट एबल्ड
रिद्धिमा पांडे
क्लाइमेट चैंपियन
सौरभ द्विवेदी
संपादक, द लल्लनटॉप
समीर सरन
अध्यक्ष, ऑब्ज़र्वर रिसर्च फाउंडेशन
गुलेश चौहान
भारत की पहली महिला ऊबर ड्राइवर
विशाक अय्यर
उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री के विशेष सचिव
वैदेही मूर्थी
सोशल मीडिया कंटेंट लीड - Dunzo
अपार गुप्ता
कार्यकारी निदेशक - इंटरनेट फ्रीडम फाउंडेशन
 

और स्पीकर्स जल्द ही

 

Youth Ki Awaaz समिट उन चेंज मेकर्स का भी सम्मान करेगा जिनके द्वारा इस प्लैटफॉर्म पर उन मुद्दों पर आवाज़ उठाई गई जो समाज के लिए महत्वपूर्ण हैं।

अपना आवेदन भेजें

सलाहकार

रिद्धिमा पांडे
सीनियर क्यूरेटर, अगामी इंडिया
चिकी सरकार
सह-संस्थापक, जगरनाॅट
महिमा कौल
नीति निदेशक, ट्विटर इंडिया
प्रज्ञा वत्स
अभियान प्रमुख, Save The Children India
राधिका कौलबत्रा
चीफ ऑफ स्टाफ, United Nations India
समीर सरन
अध्यक्ष, ऑब्ज़र्वर रिसर्च फाउंडेशन

इस प्रयास में हमारे साथी

हम शुक्रगुज़ार हैं कि हमें सहयोग मिला श्रेष्ठ संस्थाओं का

 

 

 

 

Youth Ki Awaaz Summit के लिए सीटें सीमित हैं! तब ही अप्लाय करें जब आपका आना तय हो। अप्लाय करने के बाद हमारी टीम आपसे जल्द ही संपर्क करेगी।

Sign up for the Youth Ki Awaaz Prime Ministerial Brief below